Republic Day 2021 | Khalistan Flag at red fort | Kissan Tractor Rally | farmers protest

I pray the police change its modus operandi line this:

जब पुलिस और सरकार को जानकारी हो कि प्रजातंत्र के दुश्मन लोग, जो किसी की भी नहि सुनते है और प्रजा के जान माल का नुकसान करते है, वैसे लोग जब आन्दोलन करते है, तो पुलिश और प्रजा को चाहिये कि वो उन द्श्मनो को काबू मे रखने के लिये पुरी शक्ति व हथियार से तैयार रहे।

फिर आन्दोलन मे जब भी देखो कि ये दुश्मन गलत कर रहे तब ही उनपर वार करो। कोई परवा नहि दुश्मन मर जाये तो। पहले दुश्मन को जान माल का नुकसान करने देना, अराजकता करने देना, और सब कुछ दुश्मन कर के चला जाये उसके बाद कुछ दुश्मन को पकड़ना Court मे जाना मुकदमा चलाना और फिर् उनको jail मे रखना, वो ठीक नहीं है। दुश्मन को encounter से ही चालू आन्दोलन मे मारो। पूरा मार खा के फिर् मारने निकलने से ये अच्छा है सही है।

खालिस्तान मुर्दाबाद ! खालिस्तान मुर्दाबाद ! खालिस्तान मुर्दाबाद !

शिख लोगों ने अपना मान खोया है। अपना मान वापस लेना है तो शिख समुदाय को ही  खालिस्तानीओ को परास्त करना होगा।

मुज़े लगाता है कि पाकिस्तान ने कुछ शिखों को खालिस्तानि बनाया है।
इसकि वजह से सब शिख अपना मान खो रहे है।

 

DNA: Red Fort पर ‘साजिश’ के झंडे | Republic Day 2021 | Sudhir Chaudhary | #KisnanoKaGUNtantra

I pray the police change its modus operandi line this:

जब पुलिस और सरकार को जानकारी हो कि प्रजातंत्र के दुश्मन लोग, जो किसी की भी नहि सुनते है और प्रजा के जान माल का नुकसान करते है, वैसे लोग जब आन्दोलन करते है, तो पुलिश और प्रजा को चाहिये कि वो उन द्श्मनो को काबू मे रखने के लिये पुरी शक्ति व हथियार से तैयार रहे।

फिर आन्दोलन मे जब भी देखो कि ये दुश्मन गलत कर रहे तब ही उनपर वार करो। कोई परवा नहि दुश्मन मर जाये तो। पहले दुश्मन को जान माल का नुकसान करने देना, अराजकता करने देना, और सब कुछ दुश्मन कर के चला जाये उसके बाद कुछ दुश्मन को पकड़ना Court मे जाना मुकदमा चलाना और फिर् उनको jail मे रखना, वो ठीक नहीं है। दुश्मन को encounter से ही चालू आन्दोलन मे मारो। पूरा मार खा के फिर् मारने निकलने से ये अच्छा है सही है।

#VKNews #RakeshTikait #TractorRally राकेश टिकैत के इस बयान ने भड़काई हिंसा, गृहमंत्री अमित शाह लेंगे एक्शन!

I pray the police change its modus operandi like this:

जब पुलिस और सरकार को जानकारी हो कि प्रजातंत्र के दुश्मन लोग, जो किसी की भी नहि सुनते है और प्रजा के जान माल का नुकसान करते है, वैसे लोग जब आन्दोलन करते है, तो पुलिश और प्रजा को चाहिये कि वो उन द्श्मनो को काबू मे रखने के लिये पुरी शक्ति व हथियार से तैयार रहे।

फिर आन्दोलन मे जब भी देखो कि ये दुश्मन गलत कर रहे तब ही उनपर वार करो। कोई परवा नहि दुश्मन मर जाये तो। पहले दुश्मन को जान माल का नुकसान करने देना, अराजकता करने देना, और सब कुछ दुश्मन कर के चला जाये उसके बाद कुछ दुश्मन को पकड़ना Court मे जाना मुकदमा चलाना और फिर् उनको jail मे रखना, वो ठीक नहीं है। दुश्मन को encounter से ही चालू आन्दोलन मे मारो। पूरा मार खा के फिर् मारने निकलने से ये अच्छा है सही है।

 

 

आंदोलन के नाम पर दिल्ली में घुसे दंगाई, प्रदर्शन हो गया अराजक! Delhi Farmers tractor rally Live

I pray the police change its modus operandi like this:

जब पुलिस और सरकार को जानकारी हो कि प्रजातंत्र के दुश्मन लोग, जो किसी की भी नहि सुनते है और प्रजा के जान माल का नुकसान करते है, वैसे लोग जब आन्दोलन करते है, तो पुलिश और प्रजा को चाहिये कि वो उन द्श्मनो को काबू मे रखने के लिये पुरी शक्ति व हथियार से तैयार रहे।

फिर आन्दोलन मे जब भी देखो कि ये दुश्मन गलत कर रहे तब ही उनपर वार करो। कोई परवा नहि दुश्मन मर जाये तो। पहले दुश्मन को जान माल का नुकसान करने देना, अराजकता करने देना, और सब कुछ दुश्मन कर के चला जाये उसके बाद कुछ दुश्मन को पकड़ना Court मे जाना मुकदमा चलाना और फिर् उनको jail मे रखना, वो ठीक नहीं है। दुश्मन को encounter से ही चालू आन्दोलन मे मारो। पूरा मार खा के फिर् मारने निकलने से ये अच्छा है सही है।

#KisanTractorMarch: Modi Government Must Act Against Protestors | Dr. Manish Kumar | Capital TV

I pray the police change its modus operandi like this:

जब पुलिस और सरकार को जानकारी हो कि प्रजातंत्र के दुश्मन लोग, जो किसी की भी नहि सुनते है और प्रजा के जान माल का नुकसान करते है, वैसे लोग जब आन्दोलन करते है, तो पुलिश और प्रजा को चाहिये कि वो उन द्श्मनो को काबू मे रखने के लिये पुरी शक्ति व हथियार से तैयार रहे।

फिर आन्दोलन मे जब भी देखो कि ये दुश्मन गलत कर रहे तब ही उनपर वार करो। कोई परवा नहि दुश्मन मर जाये तो। पहले दुश्मन को जान माल का नुकसान करने देना, अराजकता करने देना, और सब कुछ दुश्मन कर के चला जाये उसके बाद कुछ दुश्मन को पकड़ना Court मे जाना मुकदमा चलाना और फिर् उनको jail मे रखना, वो ठीक नहीं है। दुश्मन को encounter से ही चालू आन्दोलन मे मारो। पूरा मार खा के फिर् मारने निकलने से ये अच्छा है सही है।

टिकैत को क्यों हुई जब्त ट्रैक्टर की चिंता? योगेंद्र यादव संग टिकैत की गिरफ्तारी की मांग

I pray the police change its modus operandi like this:

जब पुलिस और सरकार को जानकारी हो कि प्रजातंत्र के दुश्मन लोग, जो किसी की भी नहि सुनते है और प्रजा के जान माल का नुकसान करते है, वैसे लोग जब आन्दोलन करते है, तो पुलिश और प्रजा को चाहिये कि वो उन द्श्मनो को काबू मे रखने के लिये पुरी शक्ति व हथियार से तैयार रहे।

फिर आन्दोलन मे जब भी देखो कि ये दुश्मन गलत कर रहे तब ही उनपर वार करो। कोई परवा नहि दुश्मन मर जाये तो। पहले दुश्मन को जान माल का नुकसान करने देना, अराजकता करने देना, और सब कुछ दुश्मन कर के चला जाये उसके बाद कुछ दुश्मन को पकड़ना Court मे जाना मुकदमा चलाना और फिर् उनको jail मे रखना, वो ठीक नहीं है। दुश्मन को encounter से ही चालू आन्दोलन मे मारो। पूरा मार खा के फिर् मारने निकलने से ये अच्छा है सही है।

#KisanTractorMarch: Republic Day Turns Into Black Day | Dr. Manish Kumar ​ | Capital TV

I pray the police change its modus operandi like this:

जब पुलिस और सरकार को जानकारी हो कि प्रजातंत्र के दुश्मन लोग, जो किसी की भी नहि सुनते है और प्रजा के जान माल का नुकसान करते है, वैसे लोग जब आन्दोलन करते है, तो पुलिश और प्रजा को चाहिये कि वो उन द्श्मनो को काबू मे रखने के लिये पुरी शक्ति व हथियार से तैयार रहे।

फिर आन्दोलन मे जब भी देखो कि ये दुश्मन गलत कर रहे तब ही उनपर वार करो। कोई परवा नहि दुश्मन मर जाये तो। पहले दुश्मन को जान माल का नुकसान करने देना, अराजकता करने देना, और सब कुछ दुश्मन कर के चला जाये उसके बाद कुछ दुश्मन को पकड़ना Court मे जाना मुकदमा चलाना और फिर् उनको jail मे रखना, वो ठीक नहीं है। दुश्मन को encounter से ही चालू आन्दोलन मे मारो। पूरा मार खा के फिर् मारने निकलने से ये अच्छा है सही है।

किसान आंदोलन कंट्रोल से बाहर, दिल्ली में कई जगह हिंसा की खबरें | tractor rally | Red fort flag

SC ने पुलिस के हाथ बांधे कि गोली नहि चलाना।
पुकिसने आन्दोलनकारि ओ को कहा कि कैसे उनको प्रदर्शन करना है।

अब, जब आन्दोलनकारि ओ ने उनकि मर्यादा लांघी, तो पोलिस को गोलिया चलानी ही चाहिये थी।

ये समज़ लो कि ये देश के दुश्मन किसी को भी सुनने वाले नहि है।
तो उनको काबू मे रखने के लिये पुलिस को और प्रजाको भी कुछ भी करना चाहिये।

जय श्री कृष्ण !