From: Shirish Dave < >

Jinna’s father was Punja bhai Premji bhai Thakkar and his wife was Mithibai. Premji bhai was converted to Khoja Muslim because he landed to business of Fish at Veraval Port. Punja bhai belonged to Gondal, a prominent kingdom of Saurashtra. Premji bhai was Lohana by caste and Lohana is a Hindu Caste a type of Bania just like Gandhi.
(Lohanas are decedents of Bhagavan Raam. -sv)  Lohana and Gandhi are Vaishnava. Premji bhai tried, after earning a lot money in the business to come back to Hinduism, but the community did not accept him. His son Punja bhai reacted and changed names of all his sons to Muslim. Of course, even now the Khojas are having Hindu name. e. g. Virjibhai, Kanjibhai, Hirabhafi, …
 
No forefathers jinna have any link with Nehru’s forefathers. It is better to not mix up falsehood with any likely truth of Nehru. This is necessary to be authentic.
==
From: BHARAT BHUSHAN GHAI < >

Q1: थुसु रहमान बाई नाम से महिला कौन है ?

Ans: पूर्व भारतीय प्रधानमंत्री जवाहरलाल नेहरू की माँ।

 

Q2: जवाहरलाल नेहरू के पिता कौन हैं ?

Ans: श्री मुबारक अली

 

Q3: मोतीलाल नेहरू और जवाहरलाल नेहरू के बीच क्या संबंध है ?

Ans: मुबारक अली की मृत्यु के बाद मोतीलाल नेहरू, थुसु रहमान बाई के दूसरे पति हैं। मोतीलाल मुबारक अली के कर्मचारी के रूप में काम कर रहा था और वह उसके लिए दूसरी पत्नी है। तो मोतीलाल नेहरू जवाहरलाल नेहरू के सौतेले पिता हैं।

 

Q4: क्या जवाहरलाल नेहरू कश्मीरी पंडित जन्म से हैं ?

Ans: नहीं, पिता और माता दोनों ही मुसलमान हैं।

 

Q5: क्या जवाहरलाल नेहरू अपने सौतेले पिता की वजह से अपना हिन्दू नाम रखे हुए थे ?

Ans: हाँ, क्योंकि ये नाम एक पर्दा था। लेकिन मोतीलाल भी खुद कश्मीर पंडित नहीं हैं।

 

Q6: मोतीलाल के पिता कौन हैं और पंडित उनके नाम के साथ कैसे जुड़ गए ?

Ans: मोतीलाल के पिता जमुना नहर (नेहर) के ग़यासुद्दीन गाज़ी हैं जो 1857 के विद्रोह के बाद दिल्ली भाग गए और फिर कश्मीर चले गए।

वहाँ उन्होंने अपना नाम गंगाधर नेहरू में बदलने का फैसला किया (नहर/नेहर‘ ‘नेहरूबन गए) और “पंडित” को इस नाम के सामने इसलिए रखा कि वे लोगों को अपनी जाति पूछने का कोई मौका न दे। अपने सिर पर टोपी (टोपी) के साथ पंडित गंगाधर नेहरू इलाहाबाद चले गए।

उनके बेटे मोतीलाल ने लॉ की डिग्री पूरी की और लॉ फर्म के लिए काम करना शुरू किया।

 

Q7: पूर्व प्रधानमंत्री इंदिरा गांधी के माता-पिता कौन हैं ?

Ans: जवाहरलाल नेहरू के सौतेले पिता से जन्मे मंसूर अली (मुस्लिम) और कमला कौल नेहरू (एक कश्मीरी पंडित)।

 

Q8: पूर्व प्रधानमंत्री राजीव गांधी के माता-पिता कौन हैं ?

A: जहांगीर फ़िरोज़ खान (फ़ारसी मुस्लिम) और इंदिरा प्रियदर्शिनी नेहरू उर्फ ​​मामूना बेगम खान।

 

इंदिरा प्रियदर्शिनी नेहरू उर्फ ​​मामूना बेगम खान- w/o जहांगीर फिरोज खान (फारसी मुस्लिम), जिन्होंने बाद में मोहनदास करमचंद गांधी की सलाह पर अपना नाम बदलकर गांधी रख लिया।

 

उनके दो बेटे राजीव खान (पिता फिरोज जहांगीर खान) और संजीव खान (नाम बाद में बदलकर राजीव गांधी व संजय गांधी हो गए) संजय के पिता भी फिरोज़ नही बताये जाते।

 

Q9: क्या जवाहरलाल नेहरू (भारत के पूर्व प्रधानमंत्री), और शेख अब्दुल्ला (कश्मीर के पूर्व मुख्यमंत्री) एक-दूसरे से जुड़े हुए हैं ?

 

Ans: हाँ

 ऊपर बताए गए तीन लोगों की माताओं में एक ही पति मोतीलाल नेहरू थे।

  अब्दुल्ला मोतीलाल की 5 वीं पत्नी जो उनके घर की मेड थी के माध्यम से है।

 

इसलिए दोनों के पिता एक ही थे। जबकि जवाहर लाल के पिता मोतीलाल जवाहर लाल के सौतेले पिता हैं।

 

Q10: आपको ये सभी उत्तर कहां से मिले, जबकि मुझे इतिहास की पुस्तकों में ऐसी कोई जानकारी नहीं मिली है, जिसका मैंने अध्ययन किया है?

Ans: एम. ओ. मथाई (जवाहरलाल नेहरू के निजी सहायक) की जीवनी से।

 

 एम. ओ. मथाई!!

 

सभी को फॉरवर्ड करें :–

           बहुत कम लोगों को पता है कि यह परिवार भारत के लोगों को धोखा दे रहा है।”

 

सबको असलियत से रूबरू करायें

[: लो खोद के लाया हूं काग्रेस का कच्चा चिठ्ठा :-

क्या आपको पता है मोदी जी कड़े निर्णय कहीं भी क्यों नहीं ले पाते हैं 

ऐसे में वह जो भी कर पा रहे हैं वह भी बड़ा चमत्कार है आश्चर्यजनक है

 

 नीचे लिखा अगर आप पढ़ेंगे तो आपको पता लग जाएगा

 

देश मे मुस्लिम और क्रिश्चियन का कार्ड खेलने वाली कांग्रेस ने देश मे क्या-क्या गुल खिलाये हैं…!

जानना हरेक भारतवासी का हक़ है…

2008 मे कांग्रेस सरकार बनने के बाद सोनीया एन्टोनिया ओर राहुल खान के काले कारनामे…

मुस्लिम क्रिस्चियन आरक्षण का कहर !

राष्ट्रपति सचिवालय मे कुल पद : 49 

मुस्लिम-क्रिस्चियन : 45

हिन्दू : 4

उप राष्ट्रपति सचिवालय मे कुल पद :

मुस्लिम-क्रिस्चियन : 7

हिन्दू : 00

मंत्रियो के कैबिनेट सचिव कुल पद : 20

मुस्लिम-क्रिस्चियन : 19 

हिन्दू :

प्रधानमंत्री कार्यालय मे कुल पद : 35

मुस्लिम-क्रिस्चियन : 33

हिन्दू : 2

कृषि-सिचंन विभाग मे कुल पद : 274

मुस्लिम-क्रिस्चियन : 259

हिन्दू : 15

रक्षा मंत्रालय मे कुल पद : 1379

मुस्लिम-क्रिस्चियन : 1331

हिन्दू : 48

समाज-हैल्थ मंत्रालय कुल पद : 209

मुस्लिम-क्रिस्चियन : 192

हिन्दू : 17

वित्त मंत्रालय मे कुल पद : 1008

मुस्लिम-क्रिस्चियन : 952

हिन्दू : 56

ग्रह मंत्रालय मे कुल पद : 409

मुस्लिम-क्रिस्चियन : 377

हिन्दू : 32 

श्रम मंत्रालय मे कुल पद : 74

मुस्लिम-क्रिस्चियन : 70

हिन्दू : 4

रसायन-पेट्रो मंत्रालय कुल पद:121

मुस्लिम-क्रिस्चियन : 112

हिन्दू : 9

राज्यपाल-उपराज्यपाल कुल पद : 27 

मुस्लिम-क्रिस्चियन : 20

हिन्दू : 7

विदेश मे राजदूत : 140

मुस्लिम-क्रिस्चियन : 130

हिन्दू : 10

विश्वविद्यालय के कुलपति पद : 108

मुस्लिम-क्रिस्चियन : 88

हिन्दू : 20

प्रधान सचिव के पद : 26

मुस्लिम-क्रिस्चियन : 20

हिन्दू : 6

हाइकोर्ट के न्यायाधीश : 330

मुस्लिम-क्रिस्चियन : 326

हिन्दू : 4

सुप्रीम कोर्ट के न्यायाधीश : 23

मुस्लिम-क्रिस्चियन : 20

हिन्दू : 03

IAS अधिकारी : 3600

मुस्लिम-क्रिस्चियन : 3000

हिन्दू : 600

PTI कुल पद : 2700 

मुस्लिम-क्रिस्चियन : 2400

हिन्दू : 300

1947 से अब तक किसी सरकार ने इस तरह से सविँधान को अनदेखा और इस का उल्लंघन नहीं कियासरकार की नजरों तो जैसे मुस्लीम से श्रेष्ठ, ईमानदार, योग्य, अनुभवी और मेहनती कोई दूसरी जातियो्ँ है ही नहीं… 

क्या ये सब कानून का उल्लंघन और सविँधान के खिलाफ नहीं था ?

आपको यह सन्देश 3 लोगो को भेजना है।

3 × 3 = 9

9 × 3 = 27

बस आपको तो एक कड़ी जोड़नी है,

देखते ही देखते पूरा देश जुड़ जायेगा.

[20/5, 5:24 pm] +91 97847 29718: पूरा पढ़िए! फिर डिलीट कर देना!

 

 चीन मोदी के विरुद्ध!

CIA मोदी के विरुद्ध!

 ISIS मोदी के विरुद्ध!

ISI मोदी के विरुद्ध!

पाकिस्तान मोदी के विरुद्ध!

कोंग्रेस मोदी के विरुद्ध!

बसपा मोदी के विरुद्ध!

सपा मोदी के विरुद्ध!

वामपंथी मोदी के विरुद्ध!

मार्कस्वादी मोदी के विरुद्ध!

आपिये मोदी के विरुद्ध!

लालू, मालू, भालू, कालू, आलू, राहु, सोनिया, कजरी, स्टालिन, पवार, ठाकरे मोदी के विरुद्ध!

सारे गद्दार मोदी के विरुद्ध!

सारे देशद्रोही मोदी के विरोध में!!!

सारी कायनात लगी है, एक शख्स को झुकाने में!

 भगवान् भी सोचता होगा, ना जाने किस मिटटी का उपयोग किया था मैंने, मोदी को बनाने में?

जरा सोचो

जो व्यक्ति

 प्रधान मंत्री बनने से पहले, यदि

अमरीका को झुका सकता है;

भूखे, नंगे देश पाकिस्तान में हडकंप मचा सकता है;

चीन जैसे गद्दार देश के समाचार पत्रों की सुर्खियों में आ सकता है;

तो भाई वह भारत को विश्व गुरु तो बना ही सकता है!

यह बात पक्की है!

 देश की प्रखर आवश्यकता है मोदी!

 “मैं मुफ्त भोजन दूंगा” – राहुल गांधी!

मैं मुफ्त पानी दूंगा”- केजरीवाल!

 “न तो मैं

मुफ्त में पानी दूँगा,

ना ही मुफ्त में भोजन की बात करूंगा!

 बल्कि मैं

इतने रोजगार तैयार करूँगा कि भारत के युवाओं को इतना सक्षम कर दूंगा कि

मेरे देश का हरेक व्यक्ति स्वाभिमान से अपना भी पेट भरेगा, और दूसरों की प्यास भी बुझाएगा!”

 – नरेंद्र मोदी!

 समस्या केजरीवाल में नहीं, भारत की जनता में है!

जो मुफ्त की चीज पाने के लिए

लादेन को भी वोट दे देगी!

 

अगर देश के लिए कुछ करना है, तो यह सन्देश ३० नागरिकों तक भिजवा दो!

 

Leave a Reply

Fill in your details below or click an icon to log in:

WordPress.com Logo

You are commenting using your WordPress.com account. Log Out /  Change )

Google photo

You are commenting using your Google account. Log Out /  Change )

Twitter picture

You are commenting using your Twitter account. Log Out /  Change )

Facebook photo

You are commenting using your Facebook account. Log Out /  Change )

Connecting to %s