From: Pramod Agrawal < >

33 करोड़ नहीं , 33 कोटी देवी-देवता हैँ हिंदू धर्म में हैं ।

अधूरा ज्ञान खतरना होता है।

 

कोटि = प्रकार ।

देवभाषा संस्कृत में कोटि के दो अर्थ होते हैं ।

कोटि का मतलब प्रकार होता है, और एक अर्थ करोड़ भी होता ।

 

कुल 33 प्रकार के देवता हैं –◾12 आदित्य है – धाता, मित्, अर्यमा, शक्र, वरुण, अंश, भग, विवस्वान, पूषा, सविता, त्वष्टा,एवं विष्णु

◾8 वसु हैं – धर, ध्रुव, सोम, अह, अनिल, अनल, प्रत्युष, तथा प्रभाष

◾11 रूद्र हैं – हर , बहुरूप, त्र्यम्बक, अपराजिता, वृषाकपि, शम्भू, कपर्दी, रेवत,

म्रग्व्यध, शर्व, तथा कपाली .

◾2 अश्विनी कुमार हैं .

कुल – 12 +8 +11 +2 =33

==

 

Leave a Reply

Fill in your details below or click an icon to log in:

WordPress.com Logo

You are commenting using your WordPress.com account. Log Out /  Change )

Google photo

You are commenting using your Google account. Log Out /  Change )

Twitter picture

You are commenting using your Twitter account. Log Out /  Change )

Facebook photo

You are commenting using your Facebook account. Log Out /  Change )

Connecting to %s