From: Chandar Kohli

शिख हिन्दु हि है।

Believe it or not but it is true –

My grandmother, my mother and my self are the witness of it –

These are the facts of three generations-

Twisted history is written by rulers of India, first by Muslims then by Christians and then by anti-Hindu, anti-national congress, many facts are omitted and twisted in Indian history

 

Sikh Community (please),

  1. stop spreading lies to the whole community LIKE CONGRESS
  2. stop changing the HISTORY BY ADDING HINDUU HEROES AS SIKH HEROES in the history LIKE CONGRESS
  3. stop teaching wrong History in Khaalasaa [Khalsa] Schools -like Islamic madrasas
  4. STOP spreading hate towards HINDUUS in your Khaalasaa Schools and in your media like Islamic madrasas and media
  5. Stop spreading lies (like)” Hindus have cast system, we Sikhs do not” while you Sikh Community have much more than Hindus Community
  6. Stop spreading lies ”Hindus have rituals we Sikhs do not” while you Sikhs have a lot I been to gurudvaaraas [guru dawaras] a lot, and see it my self
  7. Baba Banda Bahadur’s crusade against tyranny Baba Banda Bahadur was Banda varaagii [vairagi] he was not Baba

He was patriot and devote Hindu he was born in Jammu Kashmir in Raaj Put family he was Kashmiri was not Panjaabi and not Sikh, but he was great revolutionary for Hindu causes and fought with Mugals -and trained others to do so

  1. Satvant Kaur there was no Satvant Kaur story in INDIAN HISTORY but Sikh changed Raaj Put ” PANNAA DAAI ” राज पूत पन्ना दाई story to Panjaabii Satvant Kaur पंजाबी सतवंत कौर of Panjaab story

 

  1. Hari Singh Nalvaa [Nalwa] the foremost general of Mahaa [Maha] Raajaa [Raja] Ranjiit Singh was Hindu, not Sikh because he was my Naani’s [नानी] Pad Naanaa {पड़ नाना] मेरी नानी का पड़ नाना था .

Guru govind rai was born in Patana Bihaar he was Bihaari not Panjaabi and great revolutionary for Hindu causes and fought with Mugals.

Same thing with all other people who were Hindu and great revolutionary for Hindu causes and fought with Mugals and were not Sikhs.

 

Please, please, please remember the traditions. The tradition is when one guru dies then another guru is chosen to take the GADDI गद्दी.

If tenth guru govind rai {singh } started Sikh religion then the first nine gurus were in svarg स्वर्ग before the sikh religion was started. The nine gurus did not know about Sikh religion and about 5 k’s also then how could they be sikhs? They were Hindus and suffered a lot by Muslims as Hindus gurus not as Sikhs gurus.

All the tortures explained in this article endured by Sikhs not right. They were all Hindus not Sikhs.

All following happened before 84 riots: 84 riots were created by congress not by Hindus. Hindus protected and saved many Sikhs during riots time -but Sikhs always blame Hindus for that, even up to today.

 

०. ‘सिखों ने ‘हरी मंदिर’ को ”हर मंदर” कहना आरम्भ कर दिया .

१. सिखों ने आंदोलनों द्वारा शब्दकोषों में से निकलवाया “सिख हिन्दू हैं”.

२. पंजाब को दो भागों में बटवाया और एक भाग को ”पंजाब” और दूसरे भाग को ”हरयाणा” बनवाया कि पंजाब में सिख बहुमत होगें तो पंजाब को ”खालिस्थान” बनवाया जाए गा.

३. सिखों ने पंजाब में १० से १२ वर्ष हिन्दुओं को बसों, गाड़ियों से निकाल निकाल कर उन की हत्याएं की – more than 25 thousand Hindus were killed by Khaalisthaani Sikhs –

३. सिखों ने हिन्दुओं को घरों, कार्यालयों आदि आदि में घुस घुस कर मारा, उन की हत्याएं की .

४. सिखों ने अपना अलग से सिख ध्वज बनाया .

५. सिखों ने हिन्दुस्थान का राज्य पलटने के लिए ”स्वर्ण – मंदिर” को सैनिक दुर्ग बनाया –

६. कनिष्का वायुयान [AIR INDIA ] गिरा कर लगभग ३२९ हिन्दुओं की हत्याएं की –

७. इंदिरा गांधी की ह्त्या की — गुरुद्वारों में इंदिरा गांधी के हत्यारों के चित्र लगे हुएं हैं और उन्हें देश भक्त कहा गया है –

८. अब सिख अपना अलग कैलंडर बना रहें हैं – ऐसे अनेक और भी अनगिनत कई उदाहरण हैं.

९. सिख अपने आप को हिन्दुओं से अलग करने के लिए एक एक कर अनेक प्रयास करते रहें हैं.

१०. सिख तनिक तनिक कर मुसलमानों का अनुसरण कर रहे हैं, और मुसलमानों के पास और हिन्दुओं से दूर होते जा रहें हैं.

११. अमृतधारी सिखणियां मुस्लमानियों की भाँती सिर डापती हैं.

१२. सिख और सिखनिया मुसलमानों की भाँती हिन्दुओं की आलोचना कर रहे हैं .

  1. नमस्ते के स्थान पर ”सत श्री अकाल” कहते हैं .

ऐसे अनेक अनगिनत उदाहरण हैं .

Sikhs never celebrate 15th Aug. and 26th Jan., and disturb Hindus when Hindus celebrate 15th Aug. and 26th Jan.

 

  • हिन्दू गुरू द्वारे जाते हैं सिख मंदिरों में नहीं आते .
  • हिन्दू ”सुख मणि पाठ करते हैं, सिख हनुमान चालीसा पाठ नहीं करते .
  • सब हिन्दू कहते हैं ” सिख हिन्दू हैं ” किन्तु सिख नहीं कहते .
  • सिख हिन्दू को कहते हैं: ” हमें गाली मत दो कि ” सिख हिन्दू हैं. ”

ऐसे अनेक अनगिनत उदाहरण हैं —all this happened before 84 riots though Hindu still saved Sikhs during 84 riots .

पंजाबी संस्थाएं [ Panjabi organizations ] और पंजाबी वृद्ध दल [ Panjaabi senior groups ] और सिख गुरूद्वारे आदि आदि १५ अगस्त और २६ जनवरी कभी भी नहीं मनाते .

सिख” दिवाली ” मनाते हैं और कहते हैं कि ” दिवाली ” हम छटे गुरु की कारावास से मुक्ति के कारण मनातें हैं -They never tell the origin of Divaalii [diwali] which is millions of year old.

सिख ” बैसाखी ” मनाते हैं और कहते हैं कि हम ” खालसा पंथ ” की रचना क़े कारण मनातें हैं -They never tell the origin of Baisaakhii

[VASAKHI] which is millions of year old

”तीजो ” को ”तिया” का मेला कह कर मनातें हैं और केवल उस में ”भागड़ा और गिद्दा” ही होता हैं -They never tell the origin of Tij which is millions of year old

सिख कहते हैं कि जो राम और कृष्ण आदि आदि ”गुरु ग्रन्थ साहिब ” में हैं वे हिन्दुओं वाले नहीं हैं .

हिन्दू मंदिर १५ अगस्त और २६ जनवरी मनातें हैं , किन्तु सिख गुरूद्वारे कभी भी नहीं मनातें .

 

 

आरम्भ में सिख हिन्दू ही थे, वे मृत्यु पर गीता ही पड़ते थे, अब केवल ग्रन्थ साहिब ही पड़ते हैं, और गीता पड़ने नहीं देते .

मृतक की हड्डियां गंगा में ही बहाते थे, अब नहीं, अब किसी अन्य स्थान पर बहाते हैं .

सिख वेद, रामायण, महाभारत, गीता आदि ही पड़ते थे, अब नहीं. अब केवल ग्रन्थ साहिब पड़ते हैं, वेद, रामायण, महाभारत, गीता आदि पड़ने नहीं देते .

सिख पहले हनुमान चालीसा ही पड़ते थे अब नहीं, और अब केवल सुखमनी ही पड़ते हैं और हनुमान चालीसा पड़ने नहीं देते .

ऐसे अनेक अनगिनत उदाहरण हैं .

पंजाबी का अर्थ सिख नहीं, पंजाब में ५० % हिन्दू हैं और ५० % सिख और कुछ ईसाई और कुछ मुसलमान हैं .

सिख पहले व्रत आदि रखते थे अब नहीं .

ऐसे अनेक अनगिनत उदाहरण हैं .

 

One thought on “शिख हिन्दु हि है।

Leave a Reply

Fill in your details below or click an icon to log in:

WordPress.com Logo

You are commenting using your WordPress.com account. Log Out /  Change )

Google+ photo

You are commenting using your Google+ account. Log Out /  Change )

Twitter picture

You are commenting using your Twitter account. Log Out /  Change )

Facebook photo

You are commenting using your Facebook account. Log Out /  Change )

Connecting to %s